जब थानेदार ने IPS Officer का चालान काटा

कोरोना गाइडलाइंस (Corona Guidelines) का पालन ना करने के लिए कानपुर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक

न्यूज डेस्क (विश्वजीत परिहार): कोरोना गाइडलाइंस (Corona Guidelines) का पालन ना करने के लिए कानपुर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक मोहित अग्रवाल (Kanpur Range Inspector General of Police Mohit Aggarwal) का चालान हुआ। मोहित अग्रवाल कानपुर के बर्रा में एक हॉटस्पॉट (Hotspot) इलाके के निरीक्षण पर थे। इस दौरान वो फेस मास्क (Face mask) लगाना भूल गए। साथ ही उन्होंने मौके पर मौजूद सर्किल ऑफिसर (Circle Officer) और दूसरे अधिकारी से बातचीत की। हालांकि कुछ देर बाद उन्हें अपनी गलती का एहसास हुआ। जिसके बाद उन्होंने तुरंत अपनी गाड़ी से मास्क निकालकर पहना। मीडिया से बातचीत के दौरान अधिकारी ने स्वयं अपनी गलती स्वीकारी। अपने मातहतों (Subordinates) और आम जनता के बीच मिसाल पेश करने के लिए इंस्पेक्टर जरनल मोहित अग्रवाल ने अपना 100 रूपये का चालान करवाया।

आईजी मोहित अग्रवाल का चालान बर्रा थाने के एसएचओ रंजीत सिंह (SHO Ranjit Singh) ने बनाया। उन पर बिना फेस मास्क पहने गाड़ी से उतरने के तहत धाराएं दर्ज की गई। मोहित अग्रवाल ने मौके पर ही ₹100 का चालान भरा। गौरतलब है कि योगी सरकार ने प्रदेश भर में मास्क नहीं पहनने पर ₹100 का चालान करने के निर्देश जारी किए हैं। सरकार की ओर से, ये एहतियातन कदम (Precautionary steps) वायरस इन्फेक्शन की दर को कम करने के लिए उठाया गया है। इस नियम का सख्ती से पालन करवाने के लिए पुलिस और स्थानीय प्रशासन (Local administration) को खास निर्देश जारी किए गए हैं।

ऐसे ग्राम प्रधान से लेकर स्थानीय प्रशासन सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) और लॉक गाइडलाइंस का पालन करवाने के लिए खास कवायदों को अंजाम दे रहे हैं। ग्रामीण इलाकों में पंचायत सदस्य और पुलिस, प्रवासी मजदूरों के क्वारंटीन (Quarantine) की व्यवस्था को सुनिश्चित करवा रहे हैं। नगर पंचायत क्षेत्रों में पुलिस लॉकडाउन का नियम तोड़ने वाले लोगों का चालान कर रही है। जिसे पुख्ता करने के लिए आईजी मोहित अग्रवाल ने अपना चालान कटवाया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More