क्रबिस्तान में कम पड़ी जगह, वसूले जा रहे है Premium Rate

कोरोना वायरस (Corona virus) के चलते जिस तरीके से दिन-ब दिन मौतों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है

नई दिल्ली (शौर्य यादव): कोरोना वायरस (Corona virus) के चलते जिस तरीके से दिन-ब दिन मौतों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है, उसके मद्देनजर अब क्रबिस्तान (Muslim Cemetery) में भी जगह कम पड़ने लगी है। दिल्ली के जितने भी मुख्य क्रबिस्तान है तकरीबन सभी की Pre-booking हो चुकी है। मुस्लिमों के लिए बने क्रबिस्तानों में अब जगह बाकी नहीं रह गयी। जिसके कारण राजधानी दिल्ली में अब लोगों से मृतकों को सुपुर्द-ए-ख़ाक करने के लिए Premium Rate वसूले जा रहे है। उत्तरी दिल्ली नगर निगम (North Delhi Municipal Corporation) के फरमान के मुताबिक तयशुदा इलाकों से आने वाले शवों के अलावा किसी अन्य इलाकों के शवों को क्रबिस्तान में जगह देने की मनाही होगी। जिस रफ्तार से मौतें हो रही है, उसे देखते हुए लगता है कि जल्द ही दिल्ली (Delhi) के क्रबिस्तानों में जगह नहीं बचेगी।

हिन्दू श्मशान घाटों और मुस्लिम क्रबिस्तानों पर बढ़ते दबाव को देखते हुए उत्तरी दिल्ली नगर निगम द्वारा आदेश जारी किया गया, जिसके मुताबिक लोक नायक, जीबी पंत, राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल (Rajiv Gandhi Super Specialty Hospital), जीटीबी, हिंदू राव और मध्य जिला, पूर्वी जिला, उत्तर-पूर्व डिस्ट्रिक, दक्षिण-पूर्व डिस्ट्रिक, शाहदरा जिले के isolation centres में मृत होने वाले मुस्लिम समुदाय के लोगों को सुपुर्द-ए-ख़ाक करने की व्यवस्था नये बने क्रबिस्तानों में की गयी है। ये सुविधा आई.टी.ओ., कलाम वेलफेयर सोसायटी (Kalam Welfare Society), जेजे कॉलोनी (बुलंद मस्जिद शास्त्री पार्क) के क्रबिस्तानों में होगी। इसके साथ ही हिन्दूओं के दाह-संस्कार के लिए निगमबोध घाट पर व्यवस्था की गयी है। आदेश में सफदरजंग, आरएमएल, बीएसए, संजय गांधी अस्पताल (Sanjay Gandhi Hospital) और दक्षिण, दक्षिण-पश्चिम, उत्तर-पश्चिम और उत्तर जिले के isolation centres में होने वाली मौतों की आखिरी विदाई के लिए पंजाबी बाग, द्वारका और रोहिणी में सुविधायें तैयार की गयी है।

हाल ये है कि जिन लोगों के परिवार के सदस्य किसी गंभीर समस्या से जूझ रहे, उन्हें भी तयशुदा क्रबिस्तानों में Advance Booking करवानी पड़ रही है ताकि वक़्त रहते मृतक को आखिरी विदाई देने के लिए इधर उधर भटकना ना पड़े।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More