Ramadan 2020: बेहतरीन मिसाल, खाली हुआ 3 मंजिला शोरूम

रमजान के पाक और मुकद्दस मौके पर पश्चिमी उत्तर प्रदेश (Western Uttar Pradesh) के एक कारोबारी ने जक़ात

न्यूज़ डेस्क (शमशाद दस्तगीर): रमजान के पाक और मुकद्दस मौके पर पश्चिमी उत्तर प्रदेश (Western Uttar Pradesh) के एक कारोबारी ने जक़ात दे, सव़ाब हासिल करने की नई इबारत पेश की। कैराना तहसील (Kairana Tehsil) में कारोबारी इंतजार उर्फ शब्बू का गोल्ड प्लाजा कॉम्पलेक्स (Gold Plaza Complex) नाम से तीन मंजिला रेडीमेड गारमेंट और जूतों का शोरूम है। बीते शुक्रवार अलविदा जुम्मा की नमाज के बाद शब्बू ने बतौर ईदी शोरूम का सारा सामान जरूरतमंद लोगों में बांट दिया। ऐसा करके उन्होंने गरीब, जरूरतमंद लोगों (Needy people) और प्रवासी मजदूरों (Migrant Workers) की जिंदगी में खुशियां देने का काम किया। शोरूम के सभी कपड़े और जूते जक़ात में देने का मशवरा उन्हें उनकी अम्मी ने दिया था।

जक़ात का फैसला लेने के बाद उन्होंने अपनी मंशा को स्थानीय प्रशासन (Local administration) के सामने जाहिर किया। स्थानीय प्रशासन ने उन्हें उनकी पहल के लिए काफी सराहा। मौके पर खुद जिलाधिकारी जगजीत कौर (District Magistrate Jagjit Kaur) ने व्यवस्था संभाली। तपती दोपहरी के बीच लोगों का हुजूम ईदी लेने के लिए उमड़ा। इस दौरान पुलिस और जिला प्रशासन ने कड़ाई के साथ लोगों से सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) का पालन करवाया। मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाते हुए जिलाधिकारी जगजीत कौर ने भी कपड़े और जूते बांटे। कारोबारी इंतजार के मुताबिक लॉकडाउन (Lockdown) की मार झेल रहे दिहाड़ी मजदूरों के पास ईद के मौके पर कपड़े और जूते खरीदने के लिए पैसे नहीं है। ऐसे में मां की सलाह पर उन्होंने ये बड़ा कदम उठाया। इस दौरान कपड़े और जूते हासिल करने वाले बच्चों के चेहरे पर खुशियां साफ देखी गयी। कारोबारी का ये फैसला वाकई काबिले तारीफ (Praiseworthy) है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More