Fit India Movement: लिफ्ट नहीं सीढ़ी, बॉडी फिट तो माइंड हिट: फिट इंडिया के 10 नमो मंत्र

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉन्च किया फिट इंडिया मूवमेंट
  • फिट रहने के लिए पीएम मोदी ने दिए मंत्र
  • स्कूल-कॉलेज तक पहुंचाया जाएगा मिश

पिछले साल भाजपा सांसद राज्यवर्धन राठौर का फिटनेस चैलेंज (Fitness Chellange) तो आप लोगों को याद ही होगा। जिसे लोगों ने काफी पसन्द किया था। गौरतलब है कि आज हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद (Major Dhyanchand) का जन्मदिन है, देशभर में इसे राष्ट्रीय खेल दिवस (National Sports Day) के तौर पर देशभर में मनाया जाता है। 


स्वास्थ्य और फिटनेस की मुहिम को मजबूत बनाने के लिए पीएम मोदी ने आज इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम से फिट इंडिया अभियान की शुरूआत की। इसके तहत देशभर के हर कॉलेज और विश्वविद्यालय को 15 दिन के फिटनेस प्लान का ले-आउट तैयार करके उसे अपने वेब पोर्टल या वेबसाइट पर अपलोड़ करना होगा। इस मूवमेंट की रूपरेखा तैयार करने के लिए केन्द्र सरकार ने एक हाई-लेवल कमेटी का गठन किया था। इस कमेटी में बतौर सलाहकार भारतीय ओलंपिक संघ (IOA), राष्ट्रीय खेल संघ (एनएसएफ), भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI), भारतीय एथलेक्टिस महासंघ, अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ, भारतीय साइकिल महासंघ सहित खेल जगत के कई नामी-गिरामी लोगों को शामिल किया गया था।

नई दिल्ली में इसकी शुरुआत करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कई मंत्र भी दिए, जैसे लिफ्ट की बजाय सीढ़ियों का इस्तेमाल या बॉडी फिट-माइंड हिट हो. जनता को फिट रखने के पीएम मोदी ने क्या नए मंत्र दिए, यहां पढ़ें…

1. फिटनेस एक शब्द नहीं है बल्कि स्वस्थ और समृद्ध जीवन की एक जरूरी शर्त है.

2. आज Lifestyle diseases, lifestyle disorders की वजह से हो रही हैं. Lifestyle disorders को हम लाइफस्टाइल में बदलाव करके ठीक कर सकते हैं.

3. सफलता और फिटनेस का रिश्ता भी एक दूसरे से जुड़ा हुआ है. खेल, फिल्म हर क्षेत्र के हीरो फिट रहते हैं.

4. जो लोग सफल हैं उनका एक ही मंत्र है – फिटनेस पर उनका फोकस.

5. किसी भी क्षेत्र के व्यक्ति को मेंटल, फिजिकल तौर पर फिट होना जरूरी है. चाहे बोर्डरूम हो या फिर बॉलीवुड, जो फिट है वो आसमान छूता है.

6. अगर बॉडी फिट है तो तो माइंड भी हिट है.

7. इस अभियान को भले ही सरकार ने शुरू किया हो लेकिन आगे जनता बढ़ाएगी. इसमें इन्वेस्टमेंट जीरो है, लेकिन Returns असीमित हैं.

8. शरीर के लिए लिफ्ट या एस्केलेटर्स नहीं बल्कि सीढ़ी का उपयोग करना सही होता है. लेकिन ये तभी हो पाएगा जब आप फिट हों.

9. फिटनेस सिर्फ शब्द नहीं है, बल्कि स्वस्थ जीवन जीने के लिए जरूरी शर्त है.

10. कुछ दशक पहले तक एक सामान्य व्यक्ति पैदल चल लेता था, कुछ ना कुछ फिटनेस के लिए करता ही था, लेकिन आज टेक्नोलॉजी की वजह हमें पता चल रहा है कि कितने कदम चल दिए हैं.

इस कमेटी के चेयरमैन केन्द्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू है। युवा मामलों के मंत्रालय के मुताबिक इस मुहिम को देशभर में मजबूती से फैलाना है। जिससे कि लोगों का रूझान फिटनेस के प्रति बन सके। 25 अगस्त को मन की बात कार्यक्रम में पीएम मोदी इस बात का जिक्र भी कर चुके है। उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने इस मुहिम को मजबूती से लागू करने के लिए, निर्देश भी जारी कर दिये है। सूबे के ग्राम्य विकास आयुक्त के.रविन्द्र नायक ने राज्य के समस्त विकास मुख्य़ अधिकारियों को सर्कुलर भी जारी कर दिये है। इस सर्कुलर के मुताबिक ग्राम्य विकास विभाग जनपद से लेकर विकास खण्ड स्तर और ग्राम स्तर पर जरूरत के मुताबिक अलग-अलग राजकीय संस्थायें आपस में समन्वय करेंगी। इसके तहत योगा, सुबह की सैर, शारीरिक व्यायाम के प्रति लोगों में ज़मीनी जागरूकता फैलायी जायेगी। साथ ही मल्टी जिम और उसके उपकरणों को लगाया जायेगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More