TikTok Company में अफरातफरी का माहौल, जानिये CEO की चिट्ठी और नुकसान के बारे में

1

न्यूज़ डेस्क (विश्वरूप प्रियदर्शी): भारत सरकार के फैसले ने रंग लाना शुरू कर दिया है। 59 चाइनीज़ ऐप को सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम (Information Technology Act) सेक्शन 69-ए के तहत प्रतिबंधित कर, भारत ने चीनी कारोबारियों की कमर तोड़ने शुरू कर दी है। चीन ने खुद भारत की ओर हुए इस आर्थिक हमले (Economic attack) के नुकसान के बारे दुनिया को बताया। बीजिंग के मुखपत्र ग्लोबल टाइम्स (Beijing’s mouthpiece Global Times) के मुताबिक TikTok को चलाने वाली मूल कंपनी Byte Dance को भारत सरकार के इस फैसले से तकरीबन 6 बिलियन डॉलर (तकरीबन 45,000 करोड़ रूपये) का नुकसान पहुँचना तय है।

पिछले साल टिकटॉक की यूजर वृद्धि में 45 फीसदी भारतीय यूजर्स (Indian users) का योगदान रहा था। भारत इस ऐप का इस्तेमाल करने वाले टॉप यूजर देशों में शुमार था। मोटे अनुमान के मुताबिक देशभर में इसके 20 करोड़ यूजर्स थे। इसके साथ ही भारत सरकार ने दूसरे लोकप्रिय चीनी ऐप Likee, Vigo Video, DU Recorder, Helo पर भी अपना शिंकजा कसा है। ठीक इसी तर्ज पर मोदी सरकार चीन की आर्थिक नाकेबंदी करने के लिए कई बड़े फैसले लेने जा रही है। जिसके तहत सड़क निर्माण (फिसिबिलटी रिपोर्ट बनाने, डिजाइनिंग, तकनीक और सलाहकार) परियोजनाओं में चीन कंपनियां टेंडर नहीं डाल पायेगी। अगर किसी परियोजना में कोई कंपनी ज्वॉइंट वेंचर (Joint venture) में काम रही है तो उसे केन्द्र सरकार स्थगित दुबारा टेंडर निकाल सकती है। भारत सरकार के इस रवैये से ड्रैगन बुरी तरह बौखलाया हुआ है। कुछ ऐसे ही घबराहट के सुर TikTok Company कंपनी से निकलते दिख रहे है।

TikTok Company की मुख्य कार्यकारी अधिकारी केविन मेयर (Chief Executive Officer Kevin Mayer) ने अपने कर्मचारियों के नाम एक खुला खत लिखा। पत्र में उन्होनें लिखा- हमारा मानव संसाधन (human resource) हमारी बड़ी ताकत है। कंपनी अपनी कार्यप्रणाली में यूजर्स की निजता का खासतौर से पालन करती है। इन्टरनेट का लोकतान्त्रिकीकरण (Democratization of internet) और नया कलाकारों में उचित मंच मुहैया कराना Byte Dance की प्राथमिकता में शुमार है। TikTok की कार्यसंस्कृति भारतीय सरकार के मानकों के अनुकूल रही है। मौजूदा हालात कंपनी के लिए बड़ी चुनौती है। कंपनी के सभी स्टेक होल्डर्स (Steak holders) से बात करके कर्मचारियों की आंशकाओं को दूर करने का काम तेजी के किया जायेगा।

भारतीय क्रियेटर्स समुदाय (Indian Creators Community) के बारे में उन्होनें लिखा कि- कलाकारों और रचनात्मक कार्यों में लगे लोगों को हमने बेहतरीन मंच दिया। सुदूर इलाकों में रहने वाले कलाकारों को TikTok के मंच से नई पहचान मिली। छिपी प्रतिभाओं को हमारी कंपनी ने वैश्विक पहचान (Global identity) दिलवायी। हम डिजीटल इंडिया (Digital India) की मुहिम के साथ काम करने के लिए तत्पर है।

1 Comment
  1. ปั้มไลค์ says

    Like!! I blog quite often and I genuinely thank you for your information. The article has truly peaked my interest.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More