Delhi Election 2020: इस तरह सामने आया First Time Voters का ज़ज्बा

इस बार दिल्ली चुनावों में भारी तादाद उन मतदाताओं (Voters) की है, जो पहली बार अपने मताधिकार (Voting Rights) का इस्तेमाल करेगें।

नई दिल्ली: इस बार दिल्ली चुनावों में भारी तादाद उन मतदाताओं (Voters) की है, जो पहली बार अपने मताधिकार (Voting Rights) का इस्तेमाल करेगें। इसी के मद्देनज़र कई पॉलिटिकल पार्टियों (Political Parties) ने उन्हें रिझाने के लिए अपनी मैनिफेस्टों (Manifesto) में खास मशक्कत की है। आज पॉलिंग बूथों में कई ऐसे ही मतदाता नज़र आये। वोटिंग (Voting) के बाद इन वोटरों ने अपनी उंगली पर लगी स्याही के साथ सेल्फी खींचकर सोशल मीडिया पर पोस्ट की।

इसी फेहरिस्त (List) में कई ऐसे भी चेहरे है, जिनके माता-पिता को तो सब जानते है लेकिन उन्होनें पहली बार वोट दिया। पुलकित केजरीवाल (Pulkit Kejriwal) और रेहान राजीव वॉड्रा (Raihan Rajiv Vadra) दो ऐसे नाम है, जो पहली बार अपने मताधिकार का इस्तेमाल करते हुए दिखाई दिये। इसके साथ ही ट्विटर (Twitter) सहित सोशल मीडिया (Social Media) पर काफी ऐसी पोस्ट्स देखी गयी, जिनमें फर्स्ट टाइम वोटर्स अपने माता-पिता के साथ वोट डालते दिखे।

अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ट्विट कर लिखते है कि, मैनें अपने परिवार के साथ वोट डालने गया साथ मेरा बेटा भी था, जो कि दिल्ली का फर्स्ट टाइम वोटर (First Time Voter) है। मैं दिल्ली के सभी युवाओं मतदाताओं (Young Voters) से वोटिंग की अपील करता हूँ। लोकतन्त्र (Democracy) को मजबूत (Strengthens) करने के लिए मताधिकार (Voting Right) इस्तेमाल कर अपनी भागीदारी दे।

दिल्ली कांग्रेस के दिग्ग़ज नेता अजय माकन लिखते है कि, मेरा बेटा पहली बार वोट डालने जा रहा है। इसे लेकर वो काफी उत्साहित (Excited) है। मैं सभी दिल्लीवासियों से निवेदन करता हूँ कि वो वोट करे। ये आपका बहुमूल्य अधिकार और आधारभूत कर्तव्य है।

आज प्रियंका गांधी वॉड्रा (Priyanaka Gandhi Vadra) और राबर्ट वॉड्रा (Robert Vadra) लोधी स्टेट में पोलिंग बूथ संख्या 114 और 116 पर वोट डालते दिखे साथ ही उनका बेटा रेहान राजीव वॉड्रा भी था, जिसने पहली बार अपने मताधिकार का इस्तेमाल।

ट्विटर पर एक यूजर Y K Verma लिखते है कि, मेरा बेटा दीक्षान्त वर्मा पहली बार वोट डालने जा रहा है। अभी दो दिन पहले ही उसकी सर्जरी हुई है। उसे अभी भी काफी दर्द है और हिलने डुलने में काफी दिक्कत हो रही है। बावजूद इसके उसमें वोट डालने का ज़ज्बा कायम है। मेरे बेटे का वोट दिल्ली में सही सरकार चुनने में मदद करेगा।

वोट बेहतर और मजबूत लोकतन्त्र की बुनियाद है। जनता की भागीदारी ही देश के बेहतर कल का निर्माण करती है। ऐसे में सभी को अपने मताधिकार का प्रयोग करना चाहिए, जिससे की लोकतान्त्रिक प्रक्रिया और मजबूत हो। ये मजबूती ही देश को विकास के अगले पायदान पर ले जायेगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More