#BlackLivesMatter: Bollywood के Top Racist Songs, Rajesh Khanna थे इसके खिल़ाफ

0

एंटरटेनमेंट डेस्क (श्रेयसी श्रीधरा): George Floyd की मौत से दुनिया के कई हिस्सों में बवाल मचा हुआ है। लोग खुलकर काले-गोरे के मसले पर बातें कर रहे है। जिसके चलते ट्विटर पर #BlackLivesMatter काफी ट्रेंड हुआ। नस्लभेद और रंगभेद को लेकर अमेरिका के कई शहर दंगों की आग में जले। दुनिया भर में कहीं ना कहीं लोगों का मानना है कि गोरे लोग कालों से ज्यादा बेहतर होते है। जिसकी वज़ह से काले लोगों को भद्दे कमेंट और Racist Violence सहना पड़ता है। कभी-कभी तो ये पूर्वाग्रह किसी एक की मौत पर आकर थमते है। हमारे देश में भी रंगभेद जमकर होता है। Bollywood भी इससे अछूता नहीं है।

रंग के चलते बहुत से Actors को Industry में काम नहीं मिलता है। कई सांवले और काले Actors को काम पाने के लिए काफी जद्दोजहद करनी पड़ती है। कुछ नामी-गिरामी अदाकार Fairness Product की AD करके सांवले लोगों को Product खरीदने के लिए Motivate करते है। जिसके चलते हाल ही में अभय देओल ने रंगभेद/नस्लभेद की बात करने वाले उन Actors को लताड़ा, जो Fairness Product को Endorse करते है। कुछ यहीं हाल Bollywood Songs के Lyrics का है। जिनमें गोरे रंग को बेहतर बताया जाता है।

तैनूं काला चश्मा जच दा है, जचता है गोरे मुखड़े ते- गाना सिद्धार्थ मल्होत्रा और कैटरीना कैफ पर फिल्माया गया है। इसमें Actor सिद्धार्थ मल्होत्रा (Siddharth Mahlotra), कैटरीना कैफ (Katrina Kaif) के गोरे चेहरे की तारीफें करते हुए देखे जा सकते है। गाने के बोल के मुताबिक अगर कैटरीना कैफ अपने गोरे चेहरे पर काला चश्मा पहनेगीं तो, ये सिर्फ उन पर ही जंचेगा। अगर कोई दूसरी Dark Complexion वाली Ladies काला चश्मा पहनेगी तो हो सकता है कि, उस पर ये ना जचे।

कुड़िये नी तेरे ब्राउन रंग ते, मुंडे पट्ट दे नी सारे मेरे टाउन दे, कोई काम उत्ते जावे ना, रोटी-पानी खावैं ना, गोरी-गोरी कुड़िया नू कोई मुँह लावे ना- Rapper Honey Singh के इस गाने का सीधा सा मतलब है कि, लड़की के गोरे चेहरे को देखकर शहर के सारे लड़के उस पर रीझ गये। अगर वो थोड़ी सी भी सांवली होती तो, शायद उसे Boyfriend के लिए अखबार में इश्तिहार छपवाना पड़ता। यहाँ हनी सिंह गोरे रंग से भी चार कदम आगे निकलकर गोरी लड़की नहीं बल्कि ब्राउन रंग वाली फिरंग कन्या को हासिल करने की इच्छा व्यक्त कर रहे है।

चिट्टियां कलाईयां वे, ओ बेबी मेरी चिट्टियां कलाईयां वे – श्रीलंकाई बाला जैक्लीन फर्नांडिस (Jacqueline Fernandis) इस गाने में अपने गोरे चेहरे के साथ अपनी गोरी कलाईयों पर आत्ममुग्ध नज़र आती है। बीच-बीच में उन्हें ये कहते हुए भी सुना जा सकता है, वो मेरी व्हाइट कलाइयां वे। पहले तो गोरे चेहरे की बात होती थी। अब कलाईयां भी दूधिया व्हाइट होनी चाहिए। जिस तरह से उन्होनें पूरे गाने के दौरान चिट्टियां कलाईयां का ढोल पीटा। उससे गीतकार शायद ये बताने की कोशिश कर रहा है कि, दुनिया गोरे रंग की दीवानी है। बाकी रंग वाले लोगों का होना ना होना सब बराबर है।

गोरी है कलाईयां, पहने दे मुझे हरी-हरी चूड़ियां। अपना बना ले मुझे बालमा- शायद बहुत से लोगों को बालमा का मतलब नहीं पता होगा मिलेनियल्स को तो इसके बारे में पता ही नहीं होगा। बालमा का मतलब होता है- A Beloved One. इस गाने में जया प्रदा Big-B को अपनी गोरी कलाईयों का हवाला देते हुए, चूड़िया पहनाने की अपील कर रही है। तो क्या इस गाने से ये मतलब निकाला जा सकता है कि, जिनकी गोरी कलाईयां नहीं होती उन्हें कोई चूड़ी नहीं पहनाता ?

नानी तेरी मोरनी को मोर ले गये, बाकी जो बचे थे काले चोर ले गये- यहाँ बच्चों को भी Racist बनाने की पूरी तैयारी की गयी है। बच्चों को ये बताया जा रहा है कि, काले रंग के सभी लोग चोर होते है। इस गाने के मुताबिक तो सभी काले लोगों को चोर बताकर जेल में उठाकर बंद कर देना चाहिए।

गोरे रंग पर ना इतना गुमान कर, गोरा रंग तो दिन में ढल जायेगा- सबसे सही हमारे काका (Rajesh Khanna) उन्होनें इस गाने की मदद से Racism को oppose करते हुए, मुमताज़ के गोरे रंग को धत्ता बता दिया। कुल मिलाकर Bollywood में यहीं एक गाना है, जो रंगभेद के खिल़ाफ बना है। इस गाने से राजेश खन्ना ने साबित कर दिया है, वो Racism के कितने खिल़ाफ थे। तो Trendy News के Entertainment Desk की ओर से काका को Grand Salute

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More