PM Modi की अपील को नकारती पुलिस और मीडिया

0

नई दिल्ली: आज पीएम मोदी (PM Modi) ने देश को संबोधित करते हुए, आधिकारिक तौर पर लॉकडाउन की अवधि को 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया। अपने संबोधन के दौरान पीएम मोदी सात अहम बातें देशवासियों के साथ साझा की। पीएम मोदी की उन सात बातों में से दो बातों का खुलेआम उल्लंघन किया जा रहा है। पीएम ने कहा, जितना हो सके, उतने गरीब परिवारों की देखरेख करे। उनकी भोजन की आवश्यकताओं को पूरा करें।

पुलिस की ओर से इस बात की खुलेआम धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। देशभर से कई ऐसी तस्वीरें सामने आ रही है। जहां पुलिस वाले फल सब्जी की रेहडी वालों के साथ ज्यादतियां कर रहे हैं। सोशल डिस्टेसिंग का पालन करने के बावजूद उन्हें लाठियों से पीटकर उनकी दुकानदारी बंद करवाई जा रही है। सोशल मीडिया ऐसे कई वीडियोज़ से भरा हुआ है, जहां प्रशासन की शह पर पुलिस रेहड़ी को पलट दे रही है। कई जगह तो फल-सब्जी बेचने वालों का धर्म भी पूछा जा रहा है। ऐसे में गरीब जब कमा नहीं पाएगा तो उसका पेट कैसे भरेगा? जबकि वो अपना पेट भरने के लिए किसी के सामने हाथ भी नहीं फैला रहे हैं। लॉकडाउन को ढंग से लागू करने में नाकामयाब रहने पर पुलिस अपनी हताशा इन्हें गरीबों पर निकाल रही।

लेकिन कई सूबों में पुलिस का मानवीय चेहरा भी सामने आया। जहां पुलिस वालों ने कई लोगों को अपने घरों तक सही सलामत पहुंचाया। भूखों को खाना खिलाया, कई थानों में महिला पुलिसकर्मी फेस मास्क सिलती और बांटने के लिए खाना बनाते हुए दिखी। लेकिन ज्यादातर पुलिस का रवैया रेहड़ी पटरीवालों के खिलाफ भयावह ही बना हुआ है।

पीएम मोदी ने दूसरी अहम बात कहीं- आप अपने व्यवसाय में, अपने उद्योग में अपने साथ काम कर रहे लोगों के प्रति संवेदना रखें। किसी को नौकरी से ना निकाले। पीएम मोदी की इस अपील का असर कई मीडिया हाउसेस पर होता नहीं दिख रहा है। बड़े पैमाने पर लोगों की छंटनी कर उन्हें नौकरी से निकाला जा रहा है। एक सेटेलाइट न्यूज़ चैनल को बंद करने की पूरी तैयारी भी कर ली गई है। ऐसे में कई परिवारों की दो जून की रोटी दुश्वार होती दिख रही है। मीडिया हाउसेस में एंप्लॉईज़ को फायर करने की कवायद ठीक उसी वक्त अंजाम दी गई, जब पीएम मोदी की ओर से किसी को भी नौकरी से ना निकालने की अपील की जा रही थी।

अब यह देखना दिलचस्प रहेगा प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से रेहड़ी पटरी वालों के साथ जोर जबरदस्ती करने वाले पुलिसकर्मियों पर क्या विभागीय कार्रवाई की जाती है। दूसरी ओर पीएमओ की ओर से उन मीडिया हाउसेस क्या एक्शन लिया जाता है, अंधाधुंध तरीके से अपने कर्मचारियों को नौकरी से निकाल रहे हैं।

https://www.newslaundry.com/2020/04/13/news-nation-lays-off-its-entire-english-digital-team-of-15

Leave A Reply

Your email address will not be published.