Pakistani Pilots बड़ा खतरा, इस देश ने लगाया पूरी तरह Ban

0

नई दिल्ली (स्तुति महाजन/एजेंसिया): न्यूज एजेंसी रायटर्स (News agency Reuters) से मिल रही खब़रो के मुताबिक- वियतनाम ने अपने वायुक्षेत्र में सभी पाकिस्तानी पायलटों को उड़ान भरने से रोक लगा दी है। वियतनाम के उड्डयन विभाग (Civil Aviation Authority of Vietnam) ने बड़ा फैसला लेते हुए, स्थानीय एयरलाइंस सेवाओं में काम करने वाले सभी पायलटों को तत्काल प्रभाव उड़ान भरने से रोक लगा दी। वियतनाम ने ये फैसला International Air Transport Association की उस रिपोर्ट के बाद लिया। जिसमें दावा किया गया था कि, बहुत से पाकिस्तानी पायलट फर्जी लाइसेंसों (Fake licenses) का सहारा लेकर दूसरे देशों में नौकरियां कर रहे है।

गौरतलब है कि पिछले हफ़्ते जारी International Air Transport Association की रिपोर्ट में दावा किया गया था कि, पाकिस्तानी पायलटों को उड़ान के लिए जारी कर्मिशियल लाइसेंस में गंभीर खामियां (serious flaws in commercial license) पाई गई हैं। जिससे कि ये साफ होता है कि पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (PIA) यात्रियों की सुरक्षा के साथ समझौता कर रही है। रिपोर्ट का खुलासा होते ही कई विमानन कंपनियों ने अपने यहाँ काम करने वाले पाकिस्तानी पायलटों पर बैन लगा दिया।

IATA के खुलासे के बाद वियतनाम नागरिक उड्डन प्राधिकरण ने वियतनामी एयरलाइंस में काम करने वाले सभी पाकिस्तानी पायलटों की बर्खास्तगी कर दी। Civil Aviation Authority of Vietnam ने अपने आधिकारिक बयान में कहा कि- अगले आदेशों तक सभी पाकिस्तानी पायलटों (Pakistani pilots) पर प्रतिबंध लगा रहेगा। फिलहाल प्राधिकरण अपने तहत काम कर रहे है, सभी पाकिस्तानी पायलटों के लाइसेंस वेरिफाई करने के लिए पाकिस्तानी उड्डयन प्राधिकरण (Pakistan Aviation Authority) से सम्पर्क बनाये हुए है।

वियतनाम की कई स्थानीय उड़ान भरने वाली एयरलाइंस कंपनियों में पाकिस्तानी पायलट काम करते है। इनमें से ज़्यादातर पे-रोल की बजाय कॉन्ट्रेक्ट पर भर्ती हुए है। जिससे इनकी सेवायें लेना एयरलाइंस कंपनियों (Airlines companies) को सस्ता पड़ता है। वियतनाम की जेटस्टार पैसिफिक, विटजेट एविएशन, वियतनाम एयरलाइंस और बैंबू एयरवेज में पाकिस्तान पायलट अच्छी खासी संख्या में काम करते है। मामले हुए खुलासे से अब कईयों की नौकरी पर तलवार लटक रही है। कोरोना संक्रमण (Corona infection) के चलते फिलहाल सभी देशों में उड्डयन उद्योग (Aviation industry) मंदा चल रहा है। ऐसे में कंपनियां पाकिस्तानी पायलटों से काम लेकर किसी भी तरह का जोखिम उठाने के पक्ष में नहीं है।

हाल ही में पाकिस्तान में हुए नागरिक विमान हादसे के कारण भी पाकिस्तानी पायलट की लापरवाही थी। उड़ान के दौरान वो कोरोना मामले पर बातचीत करने में मशगूल था। लैंडिंग गियर (Landing gear) का इस्तेमाल किया बिना वो जहाज रनवे पर उतारना चाह रहा था। जिसकी वज़ह से ये हादसा हुआ। IATA के खुलासे और इस घटना के कारण अब वियतनाम पाकिस्तानी पायलटों को नौकरी पर रखने से हिचकिचायेगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.