कोरोना वायरस से डटकर लड़ती मोदी सरकार

0

नई दिल्ली (ब्यूरो): कोरोना वायरस (Corona virus) से लड़ने में जहां कई विकसित देशों (Developed countries) के पसीने छूट रहे हैं। वहीं मोदी सरकार इससे काफी कारगर ढंग से लड़ रही है। अमेरिका इटली और चीन की तुलना में भारत ने काफी हद तक इस वायरस पर लगाम कस रखी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद इस मामले पर काफी करीबी नजर बनाए हुए हैं। यह पीएम मोदी की ही पहल का नतीजा था कि सभी सार्क (SAARC) देशों ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (video conferencing) के जरिए एक दूसरे से इस मसले पर वार्ता की। स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन शर्मा की अगुवाई में अधिकारी दिन-रात हालातों की मॉनिटरिंग में लगे हुए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा संचालित कोरोना हेल्पलाइन (Corona helpline) और सभी अस्पताल इस समय हाई अलर्ट मोड पर काम कर रहे हैं। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय (Ministry of Information and Broadcasting) ने भी कमर कस रखी है। ऑडियो विजुअल विज्ञापनों (Audio visual commercials) के माध्यम से सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय नागरिकों को इस वायरस के प्रति लोगों में जागरूकता फैला रहा है। मिनिस्ट्री ऑफ टेलीकॉम (Ministry of telecom & IT) ने जागरूकता फैलाने के लिए सभी सेलफोन ऑपरेटरों (Cellphone operators) को लगातार जागरूकता कॉलर ट्यून लगाये रखने के निर्देश जारी किये है।

केंद्र सरकार के तहत आने वाली सभी एजेंसियां कोरोना वायरस को लेकर खासा तैयार दिख रही है। नागरिक उड्डयन मंत्रालय (Ministry of Civil Aviation) ने विदेशी नागरिकों की एयरपोर्ट पर मेडिकल स्क्रीनिंग (Medical screening) अनिवार्य कर दी है। डीओपीटी (DoPT) की ओर से बायोमैट्रिक अटेंडेंस (Biometric attendance) में छूट दी गई है। विदेश मंत्रालय (Foreign Ministry) ने तत्काल प्रभाव से सभी यात्री वीजा को रद्द कर दूसरे देशों में कोरोना से ग्रस्त भारतीयों को निकालने के लिए भारतीय सेना (Indian Army) और वायुसेना (Indian Air Force) की सहायता से रेस्क्यू मिशन (Rescue mission) शुरू कर दिया है। गृह मंत्रालय के तहत इंडो-तिब्बतन बॉर्डर पुलिस (Indo-Tibetan Border Police) विदेश से आने वाले भारतीयों की खास देखभाल कर रही है। पीएमओ (PMO) की देखरेख में रैपिड एक्शन टास्क फोर्स (Rapid action task force) का गठन किया गया है जिसका काम वायरस पहचान करने के लिए लैब का निर्माण करना है। मोदी सरकार के इन कारगर कदमों की अन्तर्राष्ट्रीय मंचों (International forums) पर काफी सराहना हो रही है।

Image Courtesy: Live Mint

Leave A Reply

Your email address will not be published.