बच्ची के सवाल पर उलझन में पड़े Ex.Vice President

George Floyd की पुलिसिया हिरासत में हुई मौत ने दुनिया भर में रंगभेद के खिलाफ नए विमर्श को जन्म

न्यूज़ डेस्क (शौर्य यादव): George Floyd की पुलिसिया हिरासत में हुई मौत ने दुनिया भर में रंगभेद के खिलाफ नए विमर्श को जन्म दिया। कई देशों में सिलसिलेवार ढंग से Black lives Matter Protest देखे गये। मामला इतना संवेदनशील था कि- संयुक्त राज्य अमेरिका के कई शहर अघोषित रूप से गृह युद्ध (Civil war) की आग में जलने लगे। अमेरिकी आंतरिक मामलों के जानकारों के मुताबिक राष्ट्रपति ट्रंप के कार्यकाल का, ये समय काफी चुनौतीपूर्ण समय रहा। आखिरकर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच George Floyd का अंतिम संस्कार (Funeral) कर दिया गया।

अंतिम क्रिया के दौरान George Floyd की 6 वर्षीय बच्ची ने, अपने एक सवाल से पूर्व उपराष्ट्रपति जो बिडेन (Former Vice President Joe Biden) को उलझन में डाल दिया। गौरतलब है कि पूर्व उपराष्ट्रपति जो बिडेन, जॉर्ज फ्लोएड के अंतिम संस्कार में वीडियो कॉल द्वारा जुड़कर शोकाकुल परिवार के प्रति संवेदनाएं व्यक्त कर रहे थे। इसी दौरान मृतक की 6 वर्षीय बच्ची उनसे सवाल पूछ बैठी कि- मेरे पिता इस दुनिया को क्यों छोड़ गये? बच्ची के सवाल से जो बिडेन उलझन में पड़ गए। उन्होंने बच्ची को समझाते हुए कहा- ये सवाल अश्वेत बच्चों की कई पीढ़ियां (Generations) पूछती आई है। तुम्हारे पिता के साथ इंसाफ होगा। अब किसी भी बच्चे को ये सवाल नहीं पूछना पड़ेगा। इस साल जब डेमोक्रेटिक पार्टी (Democratic Party) का उम्मीदवार राष्ट्रपति बनेगा तो इस समस्या को हम जड़ से उखाड़ फेंकेगें।

गौरतलब है कि, कोरोना महामारी के बीच जॉर्ज फ्लोएड को श्रद्धांजलि देने वालों का तांता लगा रहा। कार्यक्रम में ज्यादातर अफ्रीकी-अमेरिकी (African-American Community) लोगों ने हिस्सा लिया। इस दौरान जॉर्ज के करीबियों में उनसे जुड़ी यादें लोगों से साझा की। जॉर्ज फ्लोएड की जिंदगी का ज्यादातर वक्त ह्यूस्टन (Houston) में बीता था। उनकी मौत से पूरे विश्व में नस्लभेद/रंगभेद (Racism) के मुद्दे को एक बार फिर से हवा मिली। आने अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों (US presidential elections) में ये मुद्दा काफी असर डालेगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More