Vaishno Devi में फिलहाल इन लोगों को दर्शन करने की मनाही

0

नई दिल्ली (दिगान्त बरूआ): Corona Pandemic के चलते Vaishno Devi सहित देशभर के सभी प्रमुख मंदिर और तीर्थ स्थानों को फिलहाल श्रद्धालुओं के लिए बंद रखा गया है। एहतियतान देशभर के कई बड़े श्राइन बोर्ड्स ने भी लॉकडाउन गाइडलाइन (Lockdown guideline) और सोशल डिस्टेसिंग का पालन करने के लिए मंदिरों को बंद रखा। लेकिन जल्द ही Shri Mata Vaishno Devi Shrine Board अब माँ वैष्णों देवी के द्वार एक बार फिर से भक्तों के लिए खोलने जा रहा है। श्राइन बोर्ड को जम्मू कश्मीर के गृह विभाग द्वारा जारी होने वाले स्टैडर्ड ऑपरेटिंग प्रोटोकॉल (Standard Operating Protocol) का इंतज़ार है।

मिल रही जानकारी के मुताबिक फिलहाल माँ वैष्णों देवी के दर्शन के लिए सूबे के नागरिकों को ही इजाजत मिलेगी। साथ ही 10 साल से छोटे तथा 60 साल से ऊपर के दर्शनार्थियों को दर्शन करने की प्रशासनिक मनाही रहेगी। एक दिन में 4000 से 5000 पंजीकृत लोग ही पवित्र गुफा (Holy cave) में माँ के दर्शन कर पायेगें। रात में दर्शनार्थियों को आवागमन पर पूरी तरह रोक लगी रहेगी। यात्रा शुरू करने से पहले कटरा में भक्तों को अपना कोरोना टेस्ट करवाना होगा। जिसके लिए स्थानीय प्रशासन (Local administration) और श्राइन बोर्ड विशेष कैम्प का आयोजन करेगा।

इस दौरान रात में दर्शन करने की सुविधा, भवन में श्रद्धालुओं का ठहराव, अर्धकुंवारी में पवित्र गुफा के दर्शन पर पाबंदी (Restrictions on the visit to the sacred cave at Ardhkunwari) लगेगी। साथ ही दिव्य महाआरती में लोगों के शामिल होने पर रोक होगी। दर्शन की व्यवस्था सोशल डिस्टेसिंग के मानकों के अनुरूप बनाने की तैयारियां भी जोर-शोर से की जा रही है। श्रद्धालुओं द्वारा चढ़ाये जाने वाले चढ़ावे (चुन्नी, मेवा-मिश्री, फल और सामग्री) पर भी कड़ा प्रतिबंध रहेगा। प्रमुख प्रवेश और निकास वालों स्थानों पर श्राइन बोर्ड सैनिटाइजिंग की व्यवस्था को सुनिश्चित करेगा। जिसके लिए अत्याधुनिक ऑटोमेटिक हैंड फ्री सैनिटाइजर मशीनें (State-of-the-art automatic hands free sanitizer machines) की व्यवस्था की जा रही है।

सभी कवायदें पूरा करने के बाद 16 अगस्त तक मंदिर के द्वार आम जनता के लिए खोले जा सकते है। कटरा में दर्शन के लिए पर्ची अब सुबह 5 बजे से दोपहर 12 बजे तक ही मिल पायेगी। हर दो से तीन घंटे के बीच दर्शन पर्ची बुकिंग केन्द्र (Darshan Slip Booking Center) को सैनिटाइज किया जायेगा। निर्धारित समय के बाद दर्शन के लिए किसी का रजिस्ट्रेशन नहीं किया जायेगा। फिलहाल श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड (Shri Mata Vaishno Devi Shrine Board) अपने सभी कर्मचारियों को कोरोना टेस्ट करवा रहा है, ताकि आगे की कवायदों में तेजी लायी जा सके।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More