COVID-19: देश के हालात हुए बदतर -Indian Medical Association

देशभर में कोरोना संक्रमितों की संख्या 10 लाख को पार कर गयी है। हालात इस कदर नाज़ुक बने हुए है कि पिछले तीन दिनों से

नई दिल्ली (दिगान्त बरूआ): देशभर में कोरोना (COVID-19) संक्रमितों की संख्या 10 लाख को पार कर गयी है। हालात इस कदर नाज़ुक बने हुए है कि पिछले तीन दिनों से लगातार 34 हज़ार से ज़्यादा इंफेक्टिड मरीज़ों (Infected patients) के मामले देशभर में दर्ज किये गये। इन सबके बीच इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (Indian Medical Association-IMA) ने दावा किया है कि- देश में संक्रमण सामुदायिक (Community Transition) स्तर पर पहुँच चुका है। जिसका सीधा मतलब है कि देश में हालात और बदतर बनने जा रहे है।

न्यूज़ एजेंसी एएनआई से बात करते हुए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (Hospitals Board of India) के अध्यक्ष डॉक्टर वीके मोंगा ने देश में सामुदायिक संक्रमण की बात मानते हुए कहा- पिछले कुछ दिनों के आंकड़े दिखाते है कि हर दिन तकरीबन 30,000 से ज़्यादा इंफेक्शन के मामले सामने आ रहे है। जिस तेजी के साथ इंफेक्शन दर में बढ़ोत्तरी देखी जा रही है। उससे देश में हालात काफी खराब होगें। अब गांवों में भी संक्रमण फैलने के मामले सामने आ रहे है। इससे हम आने वाले दिनों की भयावहता का आसानी से अन्दाज़ा लगा सकते है।

सरकारी नीतियों को और कारगर बनाने की जरूरतों पर जोर देते हुए उन्होनें कहा- मेट्रोपॉलिटिन शहरों (Metropolitan cities) से होता हुआ कोरोना जिस तरह कस्बों, छोटे शहरों और गांवों (small towns and villages) में फैल रहा है। उसे देखते हुए हालात संभालना मुश्किल हो जायेगा। राजधानी दिल्ली में कोरोना इंफेक्शन पर नकेल कसने के लिए जोर लगाया जा रहा है। पर उन इलाकों का क्या जहां रोजाना नये हॉट स्पॉट (Hot spot) बन रहे है। ऐसे में राज्य सरकार, केन्द्र सरकार और स्थानीय निकायों को एक बार फिर इंफेक्शन की रोकथाम से जुड़ी रणनीतियों की समीक्षा (Review of infection prevention strategies) करनी चाहिए। ताकि रोकथाम और नियन्त्रण के कारगर नतीज़े सामने आ सके।

डॉ मोंगा ने आगे कहा- मौजूदा हालातों को देखते हुए इसे दो ही तरीकों से रोका जा सकता है। पहला देश की ज़्यादातर जनसंख्या इस इंफेक्शन के खिलाफ़ अपने प्रतिरक्षा तन्त्र (हर्ड इम्युनिटी- Herd immunity) को मजबूत कर ले। दूसरा जल्द से जल्द इसकी वैक्सीन खोजकर बड़े पैमाने पर अखिल भारतीय टीकाकरण अभियान (All india vaccination campaign) शुरू कर दिया जाये।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry of Family Welfare and Health) के मुताबिक पिछले 24 घंटों के दौरान वायरस इंफेक्शन के 38,902 नए मामले दर्ज किये गये हैं, इसी बीच देशभर 543 लोगों की मौत हुई है। पूरे देश में कोरोना वायरस इंफेक्शन के कुल मामलों की तादाद बढ़कर 10 लाख 77 हजार 618 हो चुकी है। इनमें से 3 लाख 73 हजार 379 सक्रिय मामले हैं, जबकि 6 लाख 77 हजार 423 लोग पूरी तरह संक्रमण के खतरे से उबर चुके हैं। फिलहाल देश में कोरोना महामारी (Corona epidemic) के कारण अब तक 26,816 लोग अपनी जान गंवा चुके है। दूसरी ओर डॉक्टर मोंगा ने फिलहाल जो दो उपाय सुझाये है उसके आसार दूर-दूर तक बनते नज़र नहीं आ रहा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More