CAB/CAA: कांग्रेस और उसके साथी देश में आग लगा रहे है-पीएम मोदी

0
झारखंड के बरहेट में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कांग्रेस सहित पूरे यूपीए कुनबे पर तीखा हमला बोला। बरहेट संथाली बहुल इलाका है और साथ ही ये हेमंत सोरेन का मजबूत किला माना जाता है। कांग्रेस के सहयोगी जेएमएम के गढ़ में पीएम मोदी ने नागरिक संशोधन अधिनियम पर भारी जनसभा को संबोधित किया। पूरे यूपीए पर मुस्लिमों समुदाय को भड़काने का आरोप लगाया। सीधी चुनौती देते हुए पीएम मोदी ने कांग्रेस को ललकारा कि-अगर हिम्मत है तो कांग्रेस खुलेआम यह घोषणा करे कि,वह पाकिस्तान के हर नागरिक को भारत की नागरिकता देगी।                                                                                     

झारखंड में बारहेट में पीएम मोदी ने नागरिक संशोधन अधिनियम के मुद्दे पर ये बड़ी बातें कही

∙ कांग्रेस और उसके साथी, नागरिकता संशोधन कानून के मुद्दे पर मुसलमानों को भड़काने का, डराने का भयभीत करने का प्रयास करके अपनी राजनीतिक खिचड़ी पकाना चाहते हैं। अगर कांग्रेस में दम है तो खुलकर घोषणा करे कि वो पाकिस्तान के हर नागरिक को भारत की नागरिकता देने को तैयार हैं। 

∙ नागरिकता संशोधन कानून को लेकर फिर ये सफेद झूठ बोलने लगे हैं, लोगों को डराने लगे हैं। कांग्रेस, उसके जैसे दलों और उसके वामपंथी इकोसिस्टम ने पूरी ताकत झोंक दी है भारत के मुसलमानों को डराने के लिए। मैं पूरे देश को, देश के प्रत्येक नागरिक को चाहे हिंदू हो या मुस्लिम को फिर ये कहना चाहता हूं कि इस कानून से किसी भी भारतीय नागरिक की नागरिकता पर कोई असर नहीं होगा। 

∙ हमने जो कानून बनाया है वो तो हमारे पड़ोस के तीन देशों में, धार्मिक अत्याचार की वजह से भारत आने वाले लोगों के लिए बनाया गया है। ये उन लोगों के लिए बनाया गया है जो बरसों से बहुत दयनीय स्थिति में हैं, जिनके पास वापसी का कोई रास्ता नहीं है। मैं पूछना चाहता हूं कि आखिर इसमें भारतीय मुसलमानों, या किसी भी भारतीय नागरिक के अधिकारों का हनन कहां होता है। 

∙ आपको कुछ गलत लगता है तो लोकतांत्रिक तरीके से प्रदर्शन करें, सरकार तक अपनी बात पहुंचाएं। ये सरकार आपकी हर बात, हर भावना को सुनती, समझती है। मेरा देश के कॉलेजों और यूनिवर्सिटी के युवा साथियों से भी आग्रह है कि आप अपने महत्व को समझें, जहां आप पढ़ रहे हैं उन संस्थानों का महत्व समझें। सरकार के फैसलों और नीतियों को लेकर चर्चा करें, डिबेट करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.