Bois Locker Room Case: Delhi Police के हत्थे चढ़ा मुख्य आरोपी

1

नई दिल्ली (दीपक खन्ना): दिल्ली पुलिस के साइबर सैल के अधिकारियों के मुताबिक इंस्टाग्राम (Instagram Group) ग्रुप बॉयस लॉकर रूम के ग्रुप एडमिन को गिरफ्तार कर लिया गया है। फिलहाल ग्रुप एडमिन सहित ग्रुप के दस सदस्यों की पहचान कर ली गयी है। सभी अभियुक्त नाबालिग है। दिल्ली पुलिस के एडिशनल पीआरओ (PRO) अनिल मित्तल ने कहा कि-सभी शिनाख्त किए गए सदस्यों के डिवाइसों को जब्त कर ,फोरेंसिक जांच के लिए भेज दिया गया है। ग्रुप के सभी सदस्यों की भूमिका की गहन जांच जारी है। दिल्ली पुलिस के आला अधिकारियों के मुताबिक सभी नाबालिगों पर जुवेनाइल जस्टिस अधिनियम के तहत मामले दर्ज कर पड़ताल को आगे बढ़ाया जायेगा।

इससे पहले कई बार इंस्टाग्राम ने अपना सफाई में कहा है कि, वो ऐसे मुद्दों पर गंभीरता से विचार कर ऐसे कामों की इज़ाजत नहीं देता। जैसे ही ये मामला इंस्टाग्राम के संज्ञान में आया तो नाबालिग लड़कियों से जुड़ी सभी आपत्तिजनक कॉन्टेंट को ऑनलाइन प्लेटफॉर्म (Instagram) से हटा लिया गया। दिल्ली महिला आयोग (DCW) ने इस मामले में इंस्टाग्राम और दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया। दिल्ली पुलिस के मुताबिक  इस मामले में आरोपित नाबालिग राजधानी दिल्ली के चुनिंदा स्कूलों के छात्र है।

मामला रोशनी में तब आय़ा, जब एक लड़की ने खुद से जुड़ा आपत्तिजनक स्क्रीनशॉट्स साझा किया। जिसके बाद ये खब़र सोशल मिया में आग की तरह फैल गयी। दिल्ली पुलिस ने कहा कि- ये अश्लील ग्रुप सोशल मीडिया मॉनिटरिंग के दौरान पकड़ में आया। इस ग्रुप के सदस्य अश्लील मैसेज और मॉफर्ड पिक्चर्स आपस में साझा करते थे। बहरहाल मामले को आई टी अधिनियम और आई पी सी (IPC) की विभिन्न धाराओं से जोड़ गया है। जांच में मिले सबूतों के आधार पर दिल्ली पुलिस आगे की कार्यवाही करेगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More