Amit Shah के Cancer की झूठी अफवाह फैलाने वाले हुए गिरफ्तार

0

नई दिल्ली (शौर्य यादव): Social Media पर अफवाह और गलत जानकारी की चपेट में गृहमंत्री (Home Minister) अमित शाह भी आ गये। अमित शाह को लेकर ये ख़बर काफी तेज़ी से Viral होती दिखी कि- गृहमंत्री गंभीर स्वास्थ्य समस्या से जूझ रहे हैं। इसीलिए सभी देशवासी ईश्वर से प्रार्थना करें कि वे जल्द ही ठीक हो जाये। ख़बर को तेज़ी से वायरल करने के लिए अमित शाह (Amit Shah) के नाम से फर्ज़ी ट्विटर हैंडल भी बनाया गया। ग्राफिक्स की सहायता से अफवाह को केएस न्यूज़ के नाम से व्हाट्सएप ग्रुप में साझा किया गया। मामला जैसे ही सामने आया पूरे देश में सनसनी फैल गई। आनन-फानन में खुद अमित शाह को सामने आकर पूरे मामले पर स्पष्टीकरण देना पड़ा।

मामले की गंभीरता को देखते हुए गुजरात पुलिस ने अहमदाबाद क्राइम ब्रांच कमिश्नर अजय तोमर की अगुवाई में स्पेशल टीम का गठन किया। गहरी छानबीन के बाद मामले में चार अभियुक्तों को गिरफ्तारी की गई। भावनगर से फिरोज़ खान पठान, सरफराज मेमन और अहमदाबाद से सज्जाद अली नयानी, सिराज हुसैन वीरानी को गिरफ्त में लिया गया। युवकों पर Cr.PC, IPC और आईटी एक्ट की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया। गुजरात पुलिस जांच के दूसरे पक्षों को भी तलाश रही है। जैसे अफवाह फैलाने के पीछे अभियुक्तों की क्या मंशा थी ? मामले में चारों युवकों के अलावा और कौन-कौन से लोग शामिल थे ? घटना को अंजाम देने के लिए पकड़े गए युवकों को किसने शह दी थी ? साथ ही पुलिस ने इस्तेमाल किये गये उपकरणों को फॉरेंसिक जांच के लिए भेज दिया।

प्रकरण पर अमित शाह सहित भाजपा के कई दिग्गज नेताओं ने अपनी प्रतिक्रिया दी। अमित शाह ने कहा कि- हाल ही में सोशल मीडिया पर कुछ लोग मेरी मौत की दुआएं मांग रहे हैं। मेरे स्वास्थ्य से जुड़ी मनगढ़ंत बातें और जानकारियां धड़ल्ले से साझा की जा रही हैं। ऐसे में मैं पार्टी कार्यकर्ताओं और शुभचिंतकों की चिंता को दरकिनार नहीं कर सकता। मैं पूरी तरह से सलामत हूं, मुझे किसी भी तरह की कोई बीमारी नहीं है। जो लोग मेरे खिलाफ गलत बातें फैला रहे हैं, उनके प्रति मेरी कोई दुर्भावना नहीं है।

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी मामले पर बयान जारी किये। स्मृति ईरानी ने गृहमंत्री के स्वास्थ्य पूर्ण चिरायु जीवन की कामना की। वहीं दूसरी ओर भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि- सोशल मीडिया पर ऐसी पोस्ट होना बेहद चिंता का विषय है। किसी व्यक्ति विशेष के स्वास्थ्य को लेकर भ्रामक और मनगढ़ंत बातें फैलाना निंदनीय काम है। ईश्वर अफवाह फैलाने वालों को सद्बुद्धि दे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More