दिल्ली में बढ़ते वायु प्रदूषण के खिल़ाफ केजरीवाल ने उठाये ये कदम

राजधानी की हवा दिनों-दिन दमघोंटू होती जा रही है। हालात ये है कि ये जानलेवा स्तर पर पहुँच चुकी है। जिसे देखते हुए दिल्ली पाल्यूशन कंट्रोल बोर्ड ने दिल्ली में मेडिकल आपातकाल लगा दिया है। आज राजधानी का एयर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) खतरनाक आंकड़े को पार करते हुए 450 के पार पहुँच गया। दिल्ली विश्व में सबसे प्रदूषित शहरों की लिस्ट में पाँचवें पायदान पर आ पहुँचा है।

मामला पर्यावरण से जुड़ा है, लेकिन सियासत को भी इसमें घसीट दिया गया है। आम आदमी पार्टी इसके लिए हरियाणा और पंजाब के उन किसानों को दोषी मानती है, जो धान की फसल काटने के बाद बचे अवशेषों (पराली) को जला देते है। इसके लिए दिल्ली सरकार की ओर से दोनों राज्यों को मुख्यमंत्रियों को औपचारिक पत्र भी लिखा गया। लेकिन अभी तक उस पत्र का कोई असर होता नहीं दिख रहा है। हालात जस के तस बने हुए है।
प्रदूषण रोकने के लिए दिल्ली सरकार की कवायद
अरविंद केजरीवाल ने इन हालातों से लड़ने के लिए कुछ फौरी कदम उठाये है। जिनमें ईवन-ऑड स्कीम लागू करना। पाँच दिनों के लिए स्कूलों को बंद करना और मास्क बांटना शामिल है। लेकिन ये सभी प्रयास फौरी तौर पर राहत के लिए है। ये समस्या तकरीबन हर साल राजधानी वासियों के झेलनी पड़ती है। आम आदमी पार्टी के पाँच साल पूरे हो गये है, लेकिन आज तक इस समस्या के समाधान के लिए दिल्ली सरकार की ओर से कोई दीर्घकालीन प्रयास नहीं किये गये है।
गंभीरता को भांपते हुए केजरीवाल ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस
मीडिया से मुखातिब होते हुए केजरीवाल ने मीडिया के सामने वायु-प्रदूषण के मसले पर दिल्ली सरकार का रूख़ साफ किया। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में ऑड-ईवन स्कीम, कैब कंपनियों की Surge Pricing,स्कूलों को पाँच दिनों के लिए बंद रखना, दिल्ली सरकार के कार्यालयों का समय बदलना, खट्टर, कैप्टन और केंद्र सरकार की इस मुद्दे पर घेरना खासतौर से शामिल है।
आम आदमी पार्टी अपने ऑफिशियल ट्विटर हैण्डिल से लिखती है, दिल्ली सरकार के सभी प्रशासनिक अमले ऑड-ईवन स्कीम के लिए तैयार है।
“Odd-Even की नोटिफिकेशन आज जारी हो गयी है।
मैंने review meeting ली थी और दिल्ली सरकार के सभी विभाग Odd-Even को लेकर तैयार हैं”- @ArvindKejriwal pic.twitter.com/1zl29n2TqV

— AAP (@AamAadmiParty) November 1, 2019

कैब ऑपरेटर कंपनियों के Surge Pricing को लेकर दिल्ली सरकार ने लगाम कसने के लिए भी तैयारी कर ली है।

“सभी cab operators को निर्देश दे दिए गए हैं, Odd-Even के दौरान कोई भी कंपनी surge pricing नहीं करेगी”- @ArvindKejriwal pic.twitter.com/vDKBPW49hZ

— AAP (@AamAadmiParty) November 1, 2019

दिल्ली सरकार की ओर से सभी ऑटो चालकों को जायजा किराया वसूलने के भी फरमान जारी किये गये है।

“सभी ऑटो चालकों को भी निर्देश दिए गए हैं कि वे strictly मीटर से ही चलें”- @ArvindKejriwal pic.twitter.com/eLNDhS7oSR

— AAP (@AamAadmiParty) November 1, 2019

EPCAके भयानक आंकड़ों को देखते हुए दिल्ली में मेडिकल आपातकाल घोषित किया गया है, जिसके चलते राजधानी में सभी स्कूलों को पाँच दिनों के लिए बंद कर दिया गया है।

“EPCA ने प्रदूषण की भयानक स्थिति को देखते हुए Health Emergency घोषित की है।
दिल्ली के सभी स्कूल 5 नवंबर तक बंद रहेंगे”- @ArvindKejriwal pic.twitter.com/vSd0mcKbp6

— AAP (@AamAadmiParty) November 1, 2019

दिल्ली सरकार वायु प्रदूषण के मसले पर हरियाणा सरकार, पंजाब सरकार और केन्द्र सरकार की ओर से ठोस कार्रवाई का इंतजार कर रही है।

हमें समझना पड़ेगा बीमारी क्या है और उसका इलाज क्या है। इस समय दिल्ली के ऊपर चारों तरफ पराली जलने से पैदा हुआ धुआं छाया हुआ है

दिल्ली की जनता अब खट्टर, कैप्टन और केंद्र सरकार से कंक्रीट टाइमलाइन चाहती है, की वो पराली जलाने पर रोक कब लगाएंगे? – @ArvindKejriwal pic.twitter.com/BQ1m4UFot5

— AAP (@AamAadmiParty) November 1, 2019

दिल्ली सरकार के पर्यावरण मंत्री कैलाश गहलोत केन्द्र सरकार को घेरते हुए कहा कि, केन्द्रीय पर्यावरण मंत्री ने इस मामले को लेकर तीन बार बैठक को रद्द किया है।

“3 बार सेंटर केंद्रीय पर्यावरण मंत्री ने मीटिंग के लिए नोटिस भेजा और तीनों ही बार मीटिंग कैंसिल हुई”- @kgahlot pic.twitter.com/mNi8l5whSW

— AAP (@AamAadmiParty) November 1, 2019

इस मामले पर जय, केजरीवाल पर करारा तंज सकते हुए ट्विटर ये पोस्ट डालते है।

दिल्ली को स्मोग से बचाने अकेले जंग
लड़ते हुए युगपुरुष @ArvindKejriwal 🙏

गाज़ी युगपुरुष का कहना,पृथ्वी को बचाने भगवान शिवजी ने जिसतरह समुद्र मंथन से निकला सारा विष पीया था।कलयुग में दिल्ली को वायु प्रदूषण से बचाने वे सारा प्रदूषण खुद पीजाएंगे #DelhiAirQuality#DelhiPollution https://t.co/Tafd1ZTsH8 pic.twitter.com/FsFnUcnz5k

— Jay® (@SaffronJay) November 1, 2019

हाल में एक रिसर्च भी सामने आयी है, जिसके मुताबिक उत्तराखंड़ में वायु प्रदूषण की वज़ह से लोगों की उम्र में तकरीबन 4.2 साल की गिरावट दर्ज की गयी है।

https://www.trendynewsnetwork.com/2019/10/Peoples-life-expectancy-decreased-by-4.2-years-due-to-air-pollution-in-Uttarakhand.html

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More